Poem on mother in hindi by famous poets – माँ पर कविताएं (Haapy Mothers Day)

Poem on Mother in Hindi : इस दुनिया में माँ को किसीने भगवान का दूसरा रूप कहा है तो किसी ने माँ सब्द को खुशियों और प्यार का खजाना कहा है । हमने आज माँ के ऊपर कुछ बेहतरीन हिंदी कविता (poem on mother in hindi) ऐ लिखी है वैसे तो माँ का कोई मोल नहीं हो सकता और उनके लिए तो जितना लिखे उतना कम है ।

इस दुनिया में माँ से बढ़कर कुछ नहीं फिर चाहे कितना भी बड़ा इंसान हो माँ के आगे तो सब नसमस्तक हो जाते है । हमारी लाइफ में माँ ही एक ऐसा रिस्ता होता है जो अपने बच्चो की कोई भी परेशानी उसे बिना बताये ही वो पहचान लेती है ।
Poem on mother in hindi
बहोत खुशनसीब होते है वो लोग जिनके पास मात पिता होते (parents poem in hindi) है उनके ही आशीर्वाद से हम बहोत आगे जा सकते है हम जो चाहे वो कर सकते है फिर चाहे हमारा रास्ता सही हो या गलत अगर हमारा कोई निर्णय गलत हो तो वे  हमें रोकते है , समजाते है सही। रास्ता दिखाते है
हमारे साथ माँ हो तो सभी दुःख और परेशानी दूर रहती है ।कही लोगो  तो माँ को स्वर्ग का दूसरा रूप मानते है हम कितनी भी बाते करले माँ की बातें तो कभी कम नहीं होगी ।
तो आज हम हमारे Poem on maa in Hindi काव्य संग्रह में से आपके लिए कुछ बेहतरीन काव्य लेके आये ही जो आपको बहोत पस्संद  आएगी आप ये कविताये अपने माँ को सुना सकते हूँ । तो दोस्तों हमारी ये सारी कविताये ध्यान से पढ़िए  |

माँ के हाथ – Maa par kavita in hindi

पाया है प्यार जिससे , वही है माँ तेरे हाथ
ली थी जब  सांस  पहली , माँ के हाथो ने ही मुझे थामाँ
कदम उठाया पहला, तब माँ  के  हाथों ने ही चलना सिखाया
जब कभी भी गिरेंगे आंसू मेरी आँखों से
तेरे हाथ ही मुझे पकड़ लेंगे
जब लगेगी कोई चोट मुझे
तेरे हाथो से ही होगा ठीक मुझे
पाया है प्यार जिससे , वही है माँ तेरे हाथ

 Mothers day poem in hindi – ‘ मेरी माँ ही भगवान ‘

मेरी माँ ही मेरे लिए भगवान है
उसके चरणों में ही स्वर्ग है
सुखी हु में जब से उसके हाथ मेरे माथे पर है
उसके बिना मेरा जीवन कहा आसान  है
बहोत से रिश्ते है मेरे जीवन में
पर मेरी माँ का ही स्थान सबसे ऊपर है
मेरा परमेश्वर खुश ही है
अगर मेरी माँ खुश है
मेरी माँ का हस्ता चहेरा ही
एक  भगवान के लिए मान है
मेरी माँ ही मंदिर
मेरी माँ ही मस्जिद
मेरी माँ ही मेरे लिए भगवान है |

Poem on maa in Hindi

मेरे वो नन्हे नन्हे पेरो से लड़खड़ाना
माँ की उंगलियों से डगमगाना
तेरे ममता के प्यार से मेरा वो मुस्कुराना
तेरे वो आँचल में माँ मुझे एक सुकून सा मिलता है
माँ तेरे हर पल के  साथ में
मुझे एक आसमा सा मिलता है
मेरे वो नन्हे नन्हे पेरो से लड़खड़ाना
माँ की उंगलियों से डगमगाना, एक सुकून सा मिलता है |

 माँ की ममता (Maa ki mamta) – Poem on mom in hindi

मेरी माँ की ममता सबसे न्यारी
रूठ जाओ जिससे तब
स्नेह से सींचा जिसने मुझे
वो मेरी माँ की ममता सबसे न्यारी
मेने सरारतो से परेशान किया सबको
किन्तु कभी हाथ न उठा मुज पे जिसका
वो मेरी माँ की ममता सबसे न्यारी
बचाये रखे हर बुरी नजर से हमें
बांधकर एक धागा
वो मेरी माँ की ममता सबसे न्यारी
छुपाये दर्द सारे अपने दिल में
प्यार लुटाये सबपे उनके

प्यारी माँ – Hindi kavita on maa

 

माँ का रिस्ता है सबसे प्यारा
जब जूठे है सारे बंधन जग में
नहीं तुमसा कोई इस जग में
इसलिए तुम ही एक मेरी  माँ  हो
भगवान केवल रचना करे
किन्तु मां तू तो पालनहार हो
माँ की तुलना करने
इस जग में सब रूखे रूखे
मेरी माँ की करुणा के आगे
सागर भी लगे छोटा,
भूखी रहले मेरे कारण
वो ही एक ममता की मूर्त हो

माँ तू ही मेरी ममता की किरण हो

Sad Poem on mother

गुजरते जीवन के इस वक्त के साथ
माँ एक तेरा ही खालीपन रहता था
सब है मेरे पास , फिर भी
एक तेरा ही ख्याल रहता था
गम था मन मेरा खुद में कही
जब माँ का इंतज़ार रहता था
सजी सितारों सी इस महफ़िल में

माँ एक तेरा ही खालीपन रहता था |

Maa kavita – माँ में छोटी सी बड़ी हो गयी

वक्त गुजरते गुजरते में बड़ी होती गई
माँ की चिंता से  घड़ियाँ बढ़ती रहीं।
हुई पराई जिस दिन माँ से
माँ की ममता सिसकियाँ भरती रही।
वक्त गुजरता गया में तड़पती रही
माँ तेरे आँचल को में तरसती रही
बन गई जब में भी एक बेटी की माँ
मेरा सारा प्यार उस पर लुटाती रही
छबी लेकर माँ की
में दिल से ही सिहरती रही
वक्त गुजरते गुजरते में बड़ी होती गई
माँ की चिंता से  घड़ियाँ बढ़ती रहीं।

माँ की लोरी  – Best Poems on Mom in Hindi

माँ तेरी वो लोरी सुनना चाहता हु
आज में फिर से तेरी गोद में  सोना   चाहता हु
तेरे वो प्यार का एहसास करने में
आज फिर से जीना चाहता हु
तेरी आँचल की छाया में रहकर
दुनिया से सामना करना चाहता हु
तेरे हाथो की रसोई खाना चाहता हु
आज फिर अपनी भूख मिटाना चाहता हु
तेरे उंगलियों को पकड़कर कर
आज फिर से चलना चाहता हु
तेरा हमेशा साथ पाकर
आज फिर से जीना चाहता हु
तेरी वो डांट सुनकर
आज फिर से गलतिया सुधारना चाहता हु
माँ तेरी वो लोरी सुनना चाहता हु
आज में फिर से तेरी गोद में  सोना   चाहता हु |

मुस्कान की वजह – Short poem on maa in hindi

बहोत परेशान और शरारत करती हु
किन्तु आपकी प्यारी सी मुस्कान की वजह भी तो बनती हु ना
लेने लगी फैसले ज़िंदगी के  खुद से
किन्तु हर मोड़ पे , सही गलत की पहचान आपकी ही हेना
हो गयी हु बड़ी अब में
किन्तु आपके लिए तो छोटी ही हु ना
कही बार आपकी बात नहीं सुनती
किन्तु आपके हर फैसले पे नाराज़ भी तो नहीं करती ना
हां
बहोत परेशान और शरारत करती हु
किन्तु आपकी प्यारी सी मुस्कान की वजह भी तो बनती हु ना

Poem for mother in hindi for birthday

जीवन का या सफर बहोत दूर तक है
जिंदगी है छोटी सी लेकिन साथ ही फ़िक्र भी बहोत है

गुम होजाते कब के हम इस दुनिया में
लेकिन आज मेरी माँ की दुआ ऐ मेरे साथ है

सलामत है मेरी ज़िंदगी
जब तक माँ मेरे साथ है |

🎂 – Happy Birthday Maa – 🎂

 

Mother poem in hindi with Video

यदि आप maa par kavita का वीडियो देखना चाहते हैं तो यहां भी इसके लिए एक समाधान है। आपmaa par kavita in hindi के बारे में जानने के लिए नीचे दिया गया वीडियो देख सकते हैं |

Conclusion

हमारी ये Mother Poem in Hindi दोस्तों आपको कैसी लगी, अगर आपको पसंद आयी हो तो  दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करना ना भूलें और अगर आपका कोई सवाल है  तो हमें कमेंट करके बता सकते हे |
यदि आप भी हिंदी कविता लिखते हो और आप Article, Hindi Quotes,Hindi Poems पसंद करते हो या कोई और Articles आप शेयर करना चाहते हो तो आप अपनी फोटो के साथ हमे निचे दिए E-mal Id पे Send कर सकते हो |
अगर आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने ब्लॉग पर Publish करेंगे। Thanks

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: